IQNA

18:15 - July 28, 2019
समाचार आईडी: 3473826
अंतर्राष्ट्रीय समूहः म्यांमार अधिकारियों के15 लोग़ों के दल उप विदेश मंत्री की अध्यक्षता में, रोहिंग्या शरणार्थी शिविर का दौरा करने के लिए 27 जुलाई को दक्षिण बांग्लादेश के शहर कॉक्स बाजार में पहुंचा।

अंतर्राष्ट्रीय कुरआन समाचार एजेंसी (IQNA) ने आनातुली समाचार एजेंसी के अनुसार बताया कि बांग्लादेश के विदेश मंत्रालय के दक्षिण एशिया के महानिदेशक दिलावर हुसैन ने कहा, कि इस "15 सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल का मुख्य उद्देश्य रोहिंग्या शरणार्थियों के साथ उनके देश लौटने के लिए राजी करना है।
उन्होंने कहा कि प्रतिनिधिमंडल की बांग्लादेशी अधिकारियों के साथ बैठक करने की कोई योजना नहीं है, लेकिन उन्होंने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि प्रतिनिधिमंडल बांग्लादेशी विदेश मंत्रालय को वार्ता के परिणाम से अवगत कराएगा।
नवंबर 2017 में, बांग्लादेश और म्यांमार ने विस्थापितों की वापसी पर एक समझौते पर हस्ताक्षर किए ग़ए, लेकिन अभी तक रोहिंग्या मुस्लिम शरणार्थियों में से किसी ने भी स्वेच्छा से अपने देश लौटने से इनकार कर दिया है।
अंतर्राष्ट्रीय संगठनों ने बांग्लादेश से आह्वान किया है कि वे म्यांमार लौटने के लिए उन पर दबाव न डालें बल्कि सभी शरणार्थीयों की रिटर्न स्वैच्छिक होना चाहिए।
याद रहे कि वर्ष 2017 में म्यांमार की सेना के दमन और हिंसा के बाद 6,000 से अधिक रोहिंग्या मुसलमान राखीन राज्य में भाग गए थे। संयुक्त राष्ट्र के निरीक्षकों ने म्यांमार में नरसंहार, बलात्कार, व्यापक आग और रोहिंग्या मुसलमानों के निष्पादन सहित कृत्यों और हिंसा का वर्णन किया है।
3830320

नाम:
ईमेल:
* आपकी टिप्पणी :