IQNA

16:17 - August 03, 2019
समाचार आईडी: 3473846
अंतर्राष्ट्रीय समूहः जॉर्डन की छात्र "मरवा" जो अंधी होने के बावजूद, बड़े प्रयास से पवित्र कुरान को याद करने में सक्षम हुई है।

अंतर्राष्ट्रीय कुरआन समाचार एजेंसी (IQNA) ने »मदार अल-साअ अल-अख़बारिया« के अनुसार मरवा बासिम सलमान जॉर्डन की एक पैदाइशी अंधी छात्रा है लेकिन उसने अपना रास्ता कुरान की रोशनी हासिल कर लिया।
 हालाँकि वह अभी भी स्कूल की बेंच पर बैठती है, लेकिन वह अपनी आँखें बंद किए हुए ईश्वर की पुस्तक को पढ़ने पर जोर देती है।
 जॉर्डन की यह छात्र इस बात पर जोर देती है कि पवित्र कुरान को सीखने और बनाए रखने में महान प्रयासों, स्थिर कदमों, दृढ़ता और दृढ़ता के साथ पवित्र कुरान के हाफिज़ों में से एक बन गई है।
 मरवा के शिक्षकों का मानना ​​है कि वह अपने साथियों से अलग है क्योंकि उसके पास विभिन्न समस्याओं का सामना करने के बावजूद उच्च संकल्प है और उसके भाग्य में ईश्वर ने जो लिखा है, वह संतोष है, और वोह राज़ी है कोई शीकायत नही है।
मरवा कहती है कि "मेरे परिवार और शिक्षकों की मदद से, और मेरी उंगलियों की मदद से ब्रेल के लिए पवित्र कुरान की पंक्तियों को छूते हुए, मैं प्रयास का एक अच्छा उदाहरण स्थापित करने में सक्षम रहा हूं; ईश्वर सर्वशक्तिमान ने कुरान की आयतों को मेरे ऊपर सभी आंखों के ऊपर प्रकाश में रखा है।
 उन्होंने कहा: "पिछले महीने जॉर्डन में पवित्र कुरान द्वारा आयोजित एक परीक्षा में जब मैने भाग़ लिया और इस परीक्षा को सफलतापूर्वक 100 में से 95 नम्बर से पास किया तब कुरान का आशीर्वाद मेरे दिल में आया।
 जार्डन की इस लड़की ने उसकी कहानी पढ़ने वालों को बताया: कि " भगवान की पुस्तक को याद करने से कोई ताक़त भी आप को नही रोक सकती है, और कोई भी आपको पवित्र कुरान की आयतों को समझने से नही रोक सकता है।
 3832103

नाम:
ईमेल:
* आपकी टिप्पणी :